आरोपी सांसदों ने संसद की गरिमा को पहुँचाया नुकसान

    जघन्य अपराधों के आरोपियों का स्थान जब प्रशासनिक सेवा से सरकारी कर्मियों तक की  नियुक्तियों में नही तो फिर लोकतंत्र की सबसे बड़ी अदालत में विभिन्न मामलों में आरोपियों को स्थान मिलना दुर्भाग्य है । उक्त विचार समाजवादी जनक्रांति पार्टी के राष्ट्रिय अध्यक्ष एसएल ठाकुर जी ने एक पत्रकार वार्ता में कहीं।

    जघन्य अपराधों के आरोपियों का
स्थान जब प्रशासनिक सेवा से सरकारी कर्मियों तक की  नियुक्तियों में

        उन्होंने गाँधीवादी अन्ना हज़ारे की टीम के सदस्य अरविंद केजरीवाल का पक्ष लेते हुए कहा कि केजरीवाल ने भ्रष्टाचारियों को भ्रष्टाचारी बता कर कोई गलत कार्य नहीं किया है। उन्होंने कहा कि कुछ सांसद संसद की गरिमा को नीचे गिरा कर इसका अपमान कर रहे हैं । कुछ सांसद अपने निहित स्थान के लिए धर्म , जाति , भाषावाद का विष संसार मे पहुँचा रहे हैं ऐसे लोगों को संसद में बैठने का कोई अधिकार नहीं होना चाहिए ।

                       श्री ठाकुर ने कहा कि अब वक्त आ गया है अब ऐसा कानून बने जिससे दागी भ्रष्टाचारी , जघन्य अपराध करने वाले संसद तक न पहुंच सकें । उन्होंने कहा कि आय से अधिक संपत्ति के मामले की सुनवाई विशेष समिति को दे दी जानी चाहिए जिससे इन लोगों को सख्त से सख्त सजा मिले । उन्होंने कहा कि केंद्र में लोकपाल और प्रदेश में लोकायुक्त द्वारा भ्रष्टाचार जैसे गंभीर मामलों की जांच होनी चाहिए और आय से अधिक संपत्ति रखने वालों की संपत्ति को राष्ट्रीय सम्पति घोषित कर दी जानी चाहिए ।

              इस अवसर पर समाजवादी जनक्रांति पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अंचल चतुर्वेदी जी ने कहा कि शहर में आगामी नगर निगम चुनाव में उनकी पार्टी प्रत्येक वार्ड से एक सभासद एवं नगर प्रमुख के रूप में पार्टी प्रत्याशियों को मैदान में उतारेगी । पत्रकार वार्ता में सुरेश अग्रवाल , फारुख खां , बरसाती लाल एवं रमाकांत त्रिपाठी आदि मौजूद रहे ।

कमेंट या फीडबैक छोड़ें